YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad2 contain advertising code here
YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad17 contain advertising code here

कामुक हिंदी कहानी. है दोस्तों मेरा नाम सोफिया है मैं मुंबईमें रहती हूं तभी मेरी उम्र 25 साल हैमेरी फिगर 3 4 3 2 3 6 की है हाइट 5 फुट 2इंच है मैं दिखने में एकदम गोरी हूं मुझेकोई भी एक नजर देख कर एकदम पागल हो जाएगायह देसी सेक्स कहानी तकरीबन 5 साल पहले कीहै जब मैं 25 साल की थी तब मेरी शादी हुई2 महीने ही हुई थी दरअसल हुआ यूं की उसेदिन मेरी नानी की मृत्यु हो गई थी तो मुझेमेरे गांव जाना पड़ा मेरे पति कम में बीजीथे उसे वजह से वो नहीं ए पे थे मैं अकेलीही चली गई थी मुझे मुंबई से गुजरात का सफरकरना था जान में तो मैं किसी तरह से पहुंचगई जब मुंबई के लिए वापस निकली तब यहखुदाई बस में हुई थी गुजरात से मुंबई जानके लिए मैं बस का टिकट बुक करने गई तोसाड़ी सीट फूल हो चुकी थी बस एक लास्टवाली सीट खाली थी यह दो जान घर बैठने कीसीट थी बुकिंग ऑफिस में मुझे बोला गया कीकोई यात्री मिलेगा तो आपके साथ इस सीट परबैठेगा मैं बोली ठीक है मेरे पास कोईदूसरा रास्ता भी नहीं था फिर मैं टाइम परबस स्टॉप पर ए गई जब बस आई तो मैं अपनीसीट पर गई उसे वक्त तक कोई दूसरा आदमी सीटपर नहीं था जो लोग गुजरात बस में यात्राकरते हैं उनको पता होगा की यह लग्जरी बसहोती है एक तरफ डबल सोफे की सीट होती हैऔर एक तरफ सिंगल होती है मेरी सीट डबलवाली सीट थी और यह सबसे लास्ट में थी मैंसीट पर जाकर बैठ गई बस चल पड़ी मैं कुछ डरतक अपने सहयात्री के आने का इंतजार करतीरही जब काफी डर तक कोई नहीं आया तो मैं बरहोने लगी मैंने अपने पति को फोन लगाया औरउनसे बात करने लगी क्योंकि मेरी नई-नईशादी हुई थी तो पति से दूरी सही नहीं जारही थी मैं अपने पति से कुछ हंसी मजाक कीबातें करने लगी पहले तो और मेरे पति नेमुझे कुछ गंभीर बातें की क्योंकि मैं नानीकी मृत्यु पर गई थी तो मेरे पति को लगा कीशायद उन्हें मेरे साथ सेक्सी बातें नहींकरना चाहिए फिर जब मैंने ही चौहल बाजीशुरू कर दी तो वो एकदम से खुलना लगे हमारेबीच जल्द ही सेक्स की बातें चलने लगी पतिने मुझे फोन पर ही खोदना शुरू कर दिया थामेरी गुफा में चुनचुनी होने लगी मैं अपनेपति से करीब आधा घंटा तक सेक्स चाट करतीरही इसका नतीजा यह निकाला की मेरी पैंट्रीगली हो गई फिर फोन कैट कर मैं अपनी गुफारगड़ना लगी तब तक अहमदाबाद तक पहुंच गई थीमेरी सीट पर कोई नहीं आया था मुझे लगा कीअब मेरी सीट पर कोई नहीं आएगा मैं पसरकरबैठ गई उसे समय रात के करीब 9:00 बाज चुकेथे जब एक्सप्रेसवे से पहले एक छोटे सेरेस्टोरेंट पर बस रुकी तो वहां से एकयात्री बस में आयाउसको मेरी सीट पर भेज दिया वह आदमी लगभग34 - 35 की उम्र का थामैंने उसे देखा वो नाइट ट्रैक और शर्टपहने हुआ था वह मेरी सीट पर आकर मेरे पासमें बैठ गया मैं विंडो वाली सीट पर थी जबबस एक्सप्रेसवे पर ए गई तब गाड़ी कीलाइट्स बैंड हो गए मैं विंडो की तरफ मुंहकरके सोनी लगी मुझे कब नींद आई कुछ पता हीनहीं चला मैं सलवार कमीज पहने हुई थी औरगहरी नींद में थी उसे आदमी ने पहले क्याकिया इसका मुझे कुछ याद नहीं लेकिन पीछेसे उसके टच करने से मेरी नींद खुला गई मैंऐसे ही लेती रही वो धीरे-धीरे मेरी पीछेपर उजर दबाते हुए आगे पीछे कर रहा थामुझमें पर उसे समय वासना हेवी हो गई थी औरमैं कुछ बोल नहीं रही थी वह भी पीछे सेमेरी पीछे दबाकर मजा ले रहा था कुछ डर बादउसने एक हाथ मेरी कमर पर रख दिया औरधीरे-धीरे मेरी कमर को सहलाने लगा मुझे भीमजा आने लगा था मुझे उसे समय अपने पति केसाथ हुई सेक्स याद ए रही थी और ऐसा ग रहाथा मानो मेरे पति मेरे साथ सेक्स कर रहेहो फिर उसने धीरे से अपने एक हाथ को मेरेदोनों सेंटर पर रख दिया मैं उसके हाथ कोमहसूस करने लगी उसने धीरे से किसी हॉर्नके जैसे मेरे दोनों सेंटर ढाबा दियामहसूस करके वह पुरी हथेली से मेरे दोनोंसेंटर को दबाने लगा मैंने भी कुछ नहीं कहाऔर उसके हाथ से अपने सेंटर मेजवाने का मजालेने लगी तब वह मस्ती से मेरे दोनों सेंटरको दबाने लगा मैंने भी हल्के हल्के सेअपनी पीछे वाले को हिलाकर उसके यूजर कोछेड़ना शुरू कर दिया उसने भी थोड़ा हिलेहुए अपने औजार से मेरी पीछे वाले कूड़ीदाऔर दूसरे हाथ से अपना हो जाएमेरी पीछे चिपकी हुई मेरी जीने का पैर कीसलवार और पैंट्री को महसूस होने लगा उसकीऔजार से प्रीतम निकालने लगा था जिससे मुझेअपने नीचे नवी महसूस हुई पूजा की गर्मी भीमेरी गर्मी से रगड़ कर मुझे वासना से सागरमें डुबोया जा रही थी बस ऐसा ग रहा था कीकिसी तरह से यूजर मेरी गुफा में घुस जाएमैं नींद का नाटक करती हुई ऐसे ही सोए रहीवो धीरे-धीरे खुलकर मजा लेने लगा शायदमेरे कुछ भी रिएक्ट ना करने से उसकीहिम्मत लगातार बढ़नी जा रही थी तभी उसनेमेरी कमीज के अंदर हाथ दाल दिया और मेरीब्रा के ऊपर से मेरे दोनों सेंटर को दबानेलगा मेरे टाइट छोटे-छोटे उसकी उंगलियां केबीच आकर मसाले जान लगेकिस तरह से बस रुकी हुई थी फिर उसने मेरेदोनों सेंटर से अपना हाथ बाहर निकाला औरमेरी सलवार को धीरे से नीचे करने लगा मैंएक करवट करके सोई थी इस वजह से सलवार नीचेफैंस रही थी वह ऐसे ही मेरी गुफा को पेटीके ऊपर से ही रगड़ना में लगा था जिससेमेरी गुफा ने पानी छोड़ना शुरू कर दिया थाजल्द ही उसको भी मेरी गुफा का गीलापन कापता ग गया था वो अब समझ चुका था की मैंखोदने को राजी हूं इस समय मैंने हिलना केबहाने से उसको मौका दे दिया अपनी सलवार कोनीचे करने के लिए मैंने थोड़ा हिल कर पीछेको उठा दी जब मेरी सलवार फ्री हुई तो उसकोउसे बाहर निकालना में आसानी हो गई उसनेहाथ से सलवार को खींच तो सलवार मेरी पीछेसे नीचे चली गई अब उसकी औजार के सामनेमेरी पीछे थी हालांकि अभी भी पैंट्री मेरीपीछे वाला गुफा को ढके हुई थी मगर अब वहबिंदास हो गया था उसने हाथ से मेरी पीछेबाला को उठा और पंती भी नीचे कर दी एकदमसे मेरी नंगी पीछे वाला उसके निशाने पर एगई थी वह बाजार को मेरी पीछे वाला के छेदमें रगड़ना लगा उसका गरमुझार मुझे अपनीपीछे वाले के बीच में महसूस होने लगा उसकाऔजार एकदम टाइट था उसने अपने पैरों की मददसे मेरी पुरी सलवार और पैंट्री निकाल दीतब मैं नीचे से एकदम नंगी हो गई थी उसनेधीरे से मेरा एक पर थोड़ा ऊपर उठाया जिससेउसकी उजाड़ के लिए आसानी हो गई मेरी गुफामें होकर को जान के लिए रास्ता बन गया थावो पीछे से मेरी गुफा में डालने लगा तोमैं सोनी का नाटक करती हुई मेरे सब का मजाले रही थी उसकी औजार का सुपर मेरी औजार कीगिलिको चीरता हुआ अंदर घुस गया मैं एकदमसे शहर गईथा मेरे दांत बेंच गए मगर मैं उसका बाजारचुपचाप लेती गई वह भी धीरे-धीरे आगे पीछेकरते हुए मेरी गुफा में हो जा अंदर पेलनेलगा तब तक उसने अपना आधा उधर मेरी गुफामें घुसा दिया था मुझे अपनी गुफा पट्टी सीमहसूस हो रही थी दर्द भी हो रहा था मगरमजा भी ए रहा था वह अपने आधे घूस औजार कोही मेरी गुफा में अंदर बाहर करने लगामैंने भी अपनी चंद को चुडा दी जिसे उसनेसहारा देकर गुफा कुछ और फैला ली जगह बनीतो उसने उजार और अंदर सर्क दिया तब उसकाऔजार मेरी गुफा में अंदर तक धमाल मचानेलगा था तब वो यूजर बाहर निकाल कर सीधा लेटगया और मुझे पड़कर उसने धीरे से सीधा लेटदिया वो मेरी ऊपर ए गया और मेरे दोनों परफैलाकर मेरी गुफा में यूजर डालने लगा मैंआदि लेती हुई थी और मेरे पर खुला हुए उठेथे वह हो जाए पल कर मुझे किस करने लगा मैंभी उसको किस करने लगी उसको समझ ए गया थाकी मैं जग कर मजा ले रही हूं जैसे ही इसबात का खुलासा हुआ तो वह एकदम से जानवर बनगयाजोर-जोर से खोदने लगा था कुछ सको के पांडववह मेरे ऊपर झुका और मुझे बोला कमीज निकालदो मैंने अपनी कमीज उतार दी उसने मेरीब्रा भी खींच कर निकाल दी और मुझे पुरीनंगी करके खोदने लगा वो मुझे खोदते हुएकिस करने लगा और मेरे दोनों सेंटर दबानेलगा तो मैं भी पागल हुई जा रही थी तकरीबन10 मिनट तक धाकापसेल खोदने के बाद उसनेऔजार बाहर निकाला और मेरी गुफा के ऊपर हीहो जा हिलाने लगा मैं समझ गई की वह झड़नाको था उसने अपने यूजर का पानी मेरे ऊपर हीगिरा दिया अब वो साइड में लेट कर मुझेपूछने लगा वो तुम्हारा नाम क्या है मैंनेउसे अपना नाम बताया और उसने भी नाम बतायाकुछ ही डर बाद हम दोनों एक बार फिर से गगए उसने मेरे हाथ को उठाकर अपने यूजर पररखवा दिया तब मैंने जाना की उसका उजालालगभग 7.5 इंच का रहा होगा मुंबई पहुंचनेतक हम दोनों ने बस में ही और दो बार खुदाईकी

dicoporn.com
YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad18 contain advertising code here

कामुक हिंदी कहानी

Title: कामुक हिंदी कहानी

Views:   0 views

Added on: January 10th, 2024

 sex stories in hindi

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
(0%)

YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad16 contain advertising code here

Related Videos

YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad26 contain advertising code here
YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad26 contain advertising code here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad27 contain advertising code here
YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad12 contain advertising code here
YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad13 contain advertising code here
YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad14 contain advertising code here
YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad15 contain advertising code here

Are you 21 or older? This website requires you to be 21 years of age or older. Please verify your age to view the content, or click "Exit" to leave.