YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad2 contain advertising code here
YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad17 contain advertising code here

Devar bhabhi ki chudai ki kahani Train me

राजधानी एक्सप्रेस में भाभी के साथ मेरा

नाम प्रभात है दोस्तों कभी कभी ऐसा होताहै आपके जीवन का एक यादगार पाल आपकेख्वाबों में हमेशा हमेशा के लिए रिकॉर्डहो जाता है जब भी आपका मां निरसा होता हैया तो आप कभी अपने आप को अकेला महसूस करतेहैं तब वही ख्वाब से अपने जीवन में एकबसंत लेट हैं इस ख्वाब को सोचकर आप खुशहोते हैं यह ख्वाब चाहे जो भी हो इसको आपजिंदगी भर नहीं भूलते हैं इस यादों केसहारे आप रात या अकेलापन काटते हैंऐसी ही कहानी मेरे जिंदगी के साथ जुड़ा हैजो मैं आपसे शेर करूंगा आशा करता हूं कीआपको यह मेरी कहानी अच्छी लगेगी मेरेसोसाइटी में एक चंडीगढ़ की भाभी है वहपंजाबन है भगवान ने उन्हें गजब का सुंदरबनाया था करीब 6 फिट लंबी है और उनका बदनकाफी गोरी है उनका ब्रेस्ट करीब 36 साइजका था पर लंबाई और शरीर के अनुसार था बहुतही सेक्सी औरत है मैं जब भी उनको शाम कोपार्क में टहलते देखा मैं भी पार्क मेंजाके बैठ जाता उनके सामने मुझे कोई भीलड़कियां औरत सुंदर नहीं लगती हैउनका मेरे घर से दोस्ती का रिलेशन भी हैतो मेरे वाइफ से काफी अच्छी जान पहचान हैएक दिन मुझे किसी काम से मुंबई जाना था तोमेरी वाइफ उनसे यह बात शेर की की मेरेहसबैंड मुंबई जा रहे हैं तो बोली कब वोबता दी जी दिन का टिकट मिल जाएगा इस दिनतो बोली मैं भी जाना छह रही हूं क्योंकिमेरी सु मां अभी मुंबई में ही है और मेरेपति अभी कनाडा गए हैं ऑफिस के काम से मेरीसु मां अपने से ए नहीं शक्ति इस सब्जे सेमुझे उन्हें लाने जाना है मैं कल आपकोबताऊंगी अगर हो सके तो मैं भी उनके साथ चलपड़ूंगी पहले मैं अपने पति से पारस मिशनले लोदूसरे दिन सुबह 8:00 बजे ही मेरे फ्लैट कावेल बजा देखा वही भाभी बाहर खड़ी थी मैंनेदरवाजा खोल वह अंदर ए गई बोली भैया आपमुंबई जा रहे हो मैं भी चलूंगी और हो सकताहै साथ ही वापस ए जाऊंगी अपने स के लेकसुना है आप दो दिन के लिए जा रहे हैंमैंने कहा हां ठीक है कोई बात नहीं मैं बसअपना टिकट बनाने ही डाला था तभी आप ए गईचली अच्छा हुआमैंने अपना लैपटॉप से आईआरसीटीसी से टिकटनिकालना लगा पर टिकट कंफर्म नहीं बल्कि सामें मिला मैंने कहा चलो यही ले लेते हैंवह भी बोली ठीक है बाकी फ्रेंड ने हीकंफर्म हो जाएगादूसरे दिन नई दिल्ली स्टेशन से मुंबईराजधानी में बैठ गए हम दोनों का साइड वालासीट था दोनों बैठ गए उसके बाद चाय कीचुस्की के साथ बातचीत शुरू हुआ और रात कोखाना भी ए गया खाना का के आइसक्रीम खाएंकरीब 5 घंटे का सफर ते हो गया तभी ट आयाऔर बोला सर आपका टिकट कंफर्म हो गया है आपइसी की ऊपर बाला ले लीजिए मैंने उसेथैंक्स कहा और फिर बातचीत शुरू रात केकरीब 11 बजे मैंने कहा मैं ऊपर चला जाताहूं आप नीचे र जैन सभी बोली अरे सोते तोरोज है आज अच्छा ग रहा है बातचीत करने मेंतुम्हें रुक गया फिर उन्होंने कहा की आपपर फैला लो कोई बात नहीं यह सब ट्रेड मेंचला है वह पर्दा लगा दी मैंने पर फैलालिया वह भी अपने पीछे तकिया लगा के परफैला ली अब उनका एक पर मेरे दोनों पैरोंके बीच में और मेरा एक पर उनके दो पैरोंके बीच में एक ही कंबल में थेअचानक उनका पर मेरे ऊ गया मेरा पहले सेखड़ा था क्योंकि वो बिना दुपट्टे के बैठीथी जिससे उनकी दोनों बाल साथ-साथ दिखे रहीथी और आधा बाल बाहर लटक रहा था उसे पर सेएक सोनी का लॉकेट गजब का ग रहा था वो समझगई की मेरा ना खड़ा हो चुका है अब वोथोड़ा नीचे सड़क गई और मेरा पर उनकेजुगाड़ पे जाति का मैंने महसूस किया कीउनका जुगाड़ काफी ग्राम हो चुका था वो अबधीरे-धीरे अपने पर से मेरे दबाने लगीमैंने भी अपने पर से उनके जुगाड़ को महसूसकरने लगा अब दोनों चुपचाप थे और बस पैरोंसे ही सब हो रहा था वह बोली मुझे थोड़ाकन्जेस्टेड हो रहा था क्या मैंने आपके परपर ही अपना सर रख लूं मैंने कहा ठीकहै वह अब घूम के अपना सर मेरे गॉड में रखली मैं इतनी करीब से उनके होंठ जो गुलाबीऔर गाल लाल लाल और बाल की गोली को नजदीकसे महसूस कर रहा था अचानक देखा वो आंखबैंड कर ली करीब 10 मिनट के बाद मैं उनकेहोंठ को अपने उंगली से छुआ वो कुछ भी नहींबोली मैंने फिर गाल छुआ वो चुप रही आंखबैंड था करीब पांच मिनट बाद मैंने उनकेबाल को थोड़ा छुआ फिर थोड़ा फिर थोड़ा औरबाद में पूरा हथेली दोनों हाथ की दोनोंबाल पे रख दिया गाड़ी सरपट भाग रही थीमेरा सांस भी इस रफ्तार में चल रहा था तबभी मैंने देखा वो मेरे हाथ को पकड़ केअपने बाल पर रखकर दबाव देने लगी मैं भीउनके बाल को दबाने लगा फिर वो उठी बैठ गईकुछ भी नहीं बोली और अपना खोल दी और फिरवह वैसे ही लेट गई वहां मी गॉड क्या चीज गरही थी यार मैं तो पागल हो गया था मैंनेबाल दबाई पर मां नहीं मां रहा था मैंनेउनके पीठ के पीछे घुसता और हक खोल दियामैंने उनके बाल को अपने मुंह में ले लियाऔर पागलों की तरह करने लगा कभी एक कभी एकदोनों को पी रहा था ढाबा रहा था और अपनाहाथ उनके होंठ पर कभी पेट पे कभी कंधे पेसला रहा था वो अपना होंठ अपने दांतों सेकैट रही थी और मौन कर रही थी हा हा हा फिरमैं उनके पर के साइड जाकर उनका उतार दी औरफिर वो मेरी सामने औरत खूबसूरत बम कभी नाभूलने वाला शरीर देखा मैंने दोनों पर कोफैलाकर उनके जो घर को चाटने लगा करीब 10मिनट चाटने के बाद बोली क्या और तड़पाओगेया कुछ और भी करोगे मैंने अपना निकाल केजोगनपे रख के एक ही झटका में अंदर कर दिया फिरक्या था दे दनादन करीब 10 मिनट के बाद मैंलेट गया और वो चढ़ गई आसपास के लोग सब सोगए थे और अब फिर वो छल छल के करवा रही थीकरीब 20 मिनट बाद दोनों शांत हो गए फिरकुछ देर तक साथ पकड़ के लेते रहे परदिक्कत हो रहा था मैं ऊपर चला गया करीब 2घंटे बाद फिर उठाई और फिर मेरा अपने मुंहमें लेक चाटने लगी फिर मैं काफी ग्राम होगया फिर करने लगा रात भर करीब तीन बारकिया मैंने सुबह करीब 10:00 बजे मुंबईपहुंच गए पर वो बोली एक काम करते हैं हमलोग आज होटल में र जाते हैं कल सुबह मैंअपने स के यहां जाऊंगी और आप भी काम कल हीकरना तभी वह अपने हसबैंड को फोन की हां जीआज का ट्रेन है जी कल हम मुंबई पहुंचजाएंगे और फिर स को भी वह झूठ बोलीफिर हम दोनों एक होटल में गए और खाना पीनाऔर करते रहे आज भी जब मैं उसे दृश्य कोयाद करता हूं तो खुश हो जाता हूं हमारेजिंदगी का एक खूबसूरत याद है और मैं कभीभी भूलना भी नहीं चाहता हूं

dicoporn.com
YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad18 contain advertising code here

Devar bhabhi ki chudai ki kahani Train me

Title: Devar bhabhi ki chudai ki kahani Train me

Views:   2 views

Added on: January 9th, 2024

 sex stories in hindi

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
(0%)

YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad16 contain advertising code here

Related Videos

YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad26 contain advertising code here

Mastram sex story

YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad27 contain advertising code here
YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad26 contain advertising code here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad27 contain advertising code here
YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad12 contain advertising code here
YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad13 contain advertising code here
YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad14 contain advertising code here
YOUR AD HERE

Login to wp-admin and go to Appearance -> Widgets -> BlackTheme_Ad15 contain advertising code here

Are you 21 or older? This website requires you to be 21 years of age or older. Please verify your age to view the content, or click "Exit" to leave.